• भारत
Rahul gandhi

पीएम मोदी के गृहराज्य गुजरात में रैली करने पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी का मुद्दा उठाते हुए निशाना साधा और उन्हें मेगा इवेंट मास्टर बताते हुए कहा कि नोटबंदी देश के 99 फीसदी लोगों के खिलाफ है। साथ ही सहारा कंपनी से आयकर विभाग द्वारा मारे गये छापे के करोड़ों रूपये लेने का आरोप लगाया।

गुजरात के मेहसाणा में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर कहा कि पीएम मोदी का नोटबंदी का फैसला कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं है। राहुल गांधी ने कहा कि देश में सिर्फ 6 फीसदी कालाधन कैश के रूप में है, शेष कालाधन रियल एस्टेट, सोने और विदेशों में है। साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने 1 फीसदी अमीर लोगों को देश का 60 फीसदी धन दे दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि कालाधन देश के 99 फीसदी लोगों के पास नहीं है बल्कि देश के 50 परिवारों के पास है।

राहुल ने आरोप लगाया है कि सहारा कंपनी ने प्रधानमंत्री मोदी को 6 महीने में 9 बार पैसे दिए हैं जोकि सहारा ने अपनी डायरी ने नोट किया हुआ है। राहुल ने कहा कि सहारा के उस डायरी और मोदीजी के खिलाफ अब तक जांच क्यों नहीं हुई? इनकम टैक्स विभाग द्वारा सहारा कंपनी पर मारे गए छापे में सामने आया कि 12 नवंबर को ढाई करोड़ रुपया मोदी जी को दिया गया। 29 नवंबर 2014 पांच करोड़ रुपया मोदी जी को दिया गया।

उन्होंने आगे कहा कि चुनाव से पहले अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हिन्दुस्तान का कालाधन विदेशी खातों में है। पीएम मोदी ने वादा किया था कि वह यह पैसा वापस लाएंगे. हर खाते में 15 लाख रुपये डालेंगे। उन्होंने अपना वादा पूरा नहीं किया।

राहुल गांधी ने पाटीदार आंदोलन को लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने शांतिपूर्ण तरीके से चल रहे पाटीदार आंदोलन को कुचल दिया। राहुल ने कहा कि पाटीदार शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन कर रहे थे लेकिन सरकार ने उनकी महिलाओं पर गोलियां चलाई।