• भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल बीजेपी राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के अंतिम भाषण में गरीबों के मुद्दे पे जोर देते हुए कहा कि एनडीए की सरकार बनते ही उन्होंने कहा था कि उनकी सरकार गरीबोंं की भलाई के लिए आई है।

पीएम ने कहा कि विपक्ष ने सिर्फ और सिर्फ़ वादे किए, हमने ठोस काम किया, साथ ही साथ नोटबंदी से गरीबों को बहुत फ़ायदा होने वाला है सरकार के पास बहुत सी योजनाएं हैं जिससे सीधे गरीबों को फ़ायदा होगा और उसका लाभ मिलेगा।

'मोदी सरकार हमेशा से ही गरीबों के साथ रही है आगे भी सरकार जो भी कदम उठाएगी उसमे गरीबों का ही हित होगा।' आने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के बारे में प्रधानमंत्री मोदी ने ये भी कहा कि आवश्य ही बीजेपी सरकार इन पांच राज्यों में जीत हासिल करेगी लेकिन इसके लिए बूथ पर स्तर कार्यकर्ताओं को फोकस रहना होगा। मोदी ने अपने नताओ से ये अपील भी की कि वो अपने रिश्तेदारों के लिए टिकट न मांगें।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉनफेर्नेस को सम्भोदित करते हुए कहा कि मोदी जी गरीबों को वोट बैंक की नज़र से नहीं देखते हैं, उनका ये सोचना है कि गरीबों की सेवा करने का मौका मिले क्योकि गरीबों की सेवा प्रभु की सेवा है, इस ही विचारधारा के साथ हमारा सरकार ये पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों लड़ेगी। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को बैठक के पहले दिन कहा था कि गरीब समर्थक होने का मुद्दा कांग्रेस और बाकी विपक्षी पार्टियों से छीन लिया है और इसीलिए वो बौखलाई हुई हैं। उत्तर प्रदेश के पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने भी कहा कि गरीबों ने नोटबंदी का पूरा साथ दिया जिसके लिया बीजेपी सरकार उनकी आभारी है। विपक्ष पे निशाना साधते हुए अमित शाह बोले विपक्ष नकारात्मक राजनीति कर रहा है और उसकी भूमिका विकास के क्रम में रुकावट पैदा करने वाली है। नोटबंदी को आम जनता का पूरा समर्थन मिला है जिसको विपक्ष यकीन नहीं कर पा रहा है मगर चुनाव के नतीजे बताएगे की जानत किसके साथ है।

पश्चिम बंगाल में हुए सांप्रदायिक दंगों के लिए अमित शाह ने राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

पाकिस्तान पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान का रवैया नहीं बदला तो आतंकवाद के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक भविष्य में भी होगा।