• खेल
Team india

विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया जिस तरह प्रदर्शन कर रही है, उससे वर्ल्ड की लगभग सभी टीमें डरने लगी हैं। इंग्लैंड को 4-0 से करारी मात देकर लगातार पांचवीं सीरीज़ पर कब्जा करने का असर अब मजबूत टीमों में से एक ऑस्ट्रेलिया पर भी नज़र आने लगा है और उनके खेमे में खलबली मची हुई है। हालांकि बीसीसीआई अध्यक्ष को सुप्रीम कोर्ट द्वारा हटाए जाने के बाद सीरीज पर संकट के बादल छा गये है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम इन दिनों पाकिस्तान के साथ टेस्ट सीरीज़ खेल रही है, लेकिन उसका ध्यान पूरी तरह भारत दौरे पर है और वह इंग्लैंड टीम के हश्र से खासी परेशान है। अब ऑस्ट्रेलिया ने भारतीय टीम का भारत में मुकाबला करने के लिए एक नई योजना पर काम करना शुरू कर दिया है और वह इसके लिए भारत से पहले दुबई की यात्रा पर जाएंगे, जहां वे अपने हुनर को धार देंगे। हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम इन दिनों पाकिस्तान के साथ टेस्ट सीरीज़ खेल रही है और 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है, लेकिन उसका ध्यान पूरी तरह भारत दौरे पर है और वह इंग्लैंड टीम के हश्र से खासी परेशान है। उनके लिए एक और चिंताजनक बात है। पिछली टेस्ट सीरीज़ों की बात करें, तो उन्हें श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के हाथों हार झेलनी पड़ी है। प्रोटियाज़ ने तो उन्हें उनके घर में हरा दिया है, जबकि टीम इंडिया ने हाल ही में वेस्ट इंडीज़, न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज़ में बुरी तरह हराया है।

वही दूसरी ओर धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम में 25 मार्च 2017 को प्रस्तावित इंडिया व आस्ट्रेलिया के बीच पहले टैस्ट मैच पर संकट के बादल मंडराने शुरू हो गए हैं। इसकी सीधी वजह सुप्रीम कोर्ट के अनुराग ठाकुर पर दिए गए आदेशों को माना जा रहा है। हालांकि अनुराग ठाकुर अभी एचपीसीए के अध्यक्ष के पद पर जरूर काबिज हैं लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एचपीसीए के प्रस्तावित योजनाओं को भी झटका लग सकता है क्योंकि अनुराग ठाकुर के बीसीसीआई अध्यक्ष पद छीनने के बाद नई बीसीसीआई टीम का गठन होना है और यही टीम उपरोक्त प्रस्तावित टैस्ट मैच के आयोजन पर अपनी अंतिम मुहर लगाएगीं।