• खेल

आस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने पाकिस्तान के खिलाफ सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर चले रहे तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन मंगलवार को वो कारनामा किया है जिसे 140 साल के टेस्ट इतिहास में कुल पांच बल्लेबाज ही कर पाए हैं।

वार्नर ने भोजनकाल से पहले ही शतक लगा कर अपना नाम उस सूची में दर्ज करा लिया है जिसमें डॉन ब्रेडमैन का नाम शमिल है। वह टेस्ट मैच के पहले दिन पहले सत्र में शतक लगाने वाले दुनिया के पांचवें बल्लेबाज बन गए।

उनसे पहले यह कारनामा आस्ट्रेलिया के विक्टर ट्रम्पर, चार्ली मैकार्टनी, ब्रैडमैन और पाकिस्तान के माजिद खान कर चुके हैं। टेस्ट इतिहास में अब तक कुल 2245 टेस्ट मैचों में पहले सत्र में शतक लगाने वाले इन बल्लेबाजों की सूची में अब वार्नर का नाम भी शामिल हो गया है। वह ऐसा करने वाले आस्ट्रेलिया के चौथे खिलाड़ी हैं।

वार्नर ने आस्ट्रेलिया के लिए यह कारनामा 87 साल बाद किया है। उनसे पहले ब्रैडमैन ने 1930 में इंग्लैंड के खिलाफ 105 रनों की पारी खेली थी। ब्रैडमैन से पहले मैकार्टनी ने 1926 में और ट्रम्पर ने 1902 में यह रिकार्ड बनाया था। इन दोनों ने भी ब्रैडमैन की तरह इंग्लैंड के खिलाफ ही टेस्ट मैच के पहले दिन पहले सत्र में शतक जमाया था।

इसके अलावा वार्नर आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर टेस्ट मैच के किसी भी दिन पहले सत्र में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं। उनसे पहले वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज क्लाइव लॉयड ने वाका में तीसरे दिन के पहले सत्र में 98 रनों की पारी खेली थी। वार्नर से पहले टेस्ट मैच के किसी भी दिन के पहले सत्र में सर्वोच्च स्कोर का रिकार्ड एडम वोग्स के नाम था। उन्होंने होबार्ट में खेले गए टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे दिन के पहले सत्र में 95 रनों की पारी खेली थी।

पारी की शुरुआत करने आए वार्नर ने अपने चिर परिचित तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की और पाकिस्तानी गेंदबाजों की जमकर खबर ली। उन्होंने पारी के 27वें ओवर की दूसरी गेंद पर तीन रन लेकर अपना शतक पूरा किया। उन्होंने इस शतक को पूरा करने के लिए 78 गेंदों का सामना किया और 17 चौके लगाए।

वार्नर शतक पूरा करने के बाद ज्यादा देर तक टिक नहीं सके और वहाब रियाज की गेंद पर आउट हो गए। उन्होंने अपनी 113 रनों की पारी में महज 95 गेंदें खेलीं और 17 चौके लगाए।

मैच के बाद वार्नर ने कहा, "इन नामों के साथ खड़े होना सम्मान की बात है। मुझे इस रिकार्ड के बारे में जानकारी नहीं थी। मैं सत्र में शतक लगाने के बारे में जानता था लेकिन पूरा रिकार्ड मुझे पता नहीं था।"

वार्नर और उनके सलामी जोड़ीदार मैट रेनशॉ की शानदार शतकीय पारियों की मदद से आस्ट्रेलिया ने पहले दिन तीन विकेट के नुकसान पर 365 रन बना कर अपनी स्थिति मजबूत कर ली है। रेनशॉ दिन का खेल खत्म होने तक 167 रन बनाकर नाबाद हैं।