• खेल
Geeta Phogat and Sakshi Malik

प्रो-रेसलिंग लीग (PWL) में दंगल गर्ल्स के न होने विशेषकर कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल विजयता गीता फोगाट और रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजयता साक्षी मलिक के बीच महादंगल न होने से जहां कुश्ती प्रशंसक निराश हैं वहीं कहा जा रहा है कि लीग को भी काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

फिल्म दंगल से चर्चा में आईं फोगाट बहनों में से एक बबीता फोगाट इस टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं। बताया जा रहा है कि बबीता फोगाट चोट के कारण इस टूर्नामेंट से बाहर हो रही हैं, वहीं गीता के खेलने पर भी संशय है। सूत्रों का कहना है कि गीता फोगाट को तेज बुखार है और उन्हें डॉक्टर ने मैच न खेलने की सलाह दी है। रेसलिंग फेडरेशन अॉफ इंडिया (WFI) ने गीता और बबीता फोगाट के लिए रिप्लेसमेंट तैयार करने को कहा है।

यूपी दंगल टीम से खेलने वाली गीता फोगाट के बारे में कहा जा रहा है कि वह आगे के मैचों में हिस्सा लेंगी। इससे लीग को बड़ा नुकसान हुआ है। साथ ही कुश्ती प्रशंसकों को भी काफी निराशा हुई है। गीता और बबीता के संघर्ष पर बनी फिल्म ‘दंगल’ की लोकप्रियता से प्रभावित काफी संख्या में लोग लीग में इनके प्रदर्शन को देखना चाहते थे। इसके अलावा गीता और रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक की भिड़ंत का भी लोगों को बेसब्री से इंतजार था। लेकिन इस खबर ने सबको निराश करते हुए सब पर पानी फेर दिया।

यूपी दंगल टीम में बबीता फोगाट की जगह 53किग्रा वर्ग में पिंकी को लाया गया है, जबकि 58 किग्रा वर्ग में गीता फोगाट की जगह मनीषा खेलेंगी। खबर यह भी है कि ज्यादा वजन वाले वर्ग में लड़ने वालीं रेश्मा माने को वजन कम करने को कहा गया है ताकि वह 58 किग्रा वर्ग में लड़ सकें। बताया जा रहा है कि रेश्मा मनीषा से बहुत अच्छी रेसलर हैं और वह गीता फोगाट की असल जगह ले सकती हैं।